‘विकास पागल हो गया है।’ ने उड़ाई भाजपा की नींद

गुजरात चुनाव पर पड़ सकता है भारी


गांधीनगर(JT NEWS TEAM), 22 सितंबर:- गुजरात में चल रहे हास्य साइबर कैंपेन ने बीजेपी की मुश्किलें बढ़ा दी हैं। हास्य से भरपूर इस साइबर कैंपेन में कहा जा रहा, ‘विकास पागल हो गया है।’ राज्य विधानसभा चुनाव से पहले इस कैंपेन के जरिये सरकार के मुख्य मुद्दे विकास की मजाक उड़ाया जा रहा है। यह कैंपेन कांग्रेस पार्टी द्वारा तेजी से सोशल मीडिया के प्लैटफॉर्म्स पर फैलाया जा रहा है। अब नवरात्रि सीजन शुरू होने के मद्देनजर इस थीम पर गरबा सॉन्ग भी रिलीज किए जा रहे हैं।

ऐसे ही एक गाने में गुड्स एंड सर्विसेज टैक्स, बेरोजगारी और लैंड डील समेत कई अन्य मुद्दों का जिक्र है। कांग्रेस पार्टी के साइबर सेल के हेड रोहन गुप्ता के मुताबिक, इस साल के अंत में होने वाले गुजरात विधानसभा चुनाव से पहले कैंपेन पर जोरशोर से अंजाम देने के लिए तकरीबन 45 लोग पार्टी द्वारा तैयार किए गए वॉर रूम में चौबीस घंटे काम कर रहे हैं। गुप्ता ने हमारे सहयोगी अखबार इकनॉमिक टाइम्स को बताया, ‘हास्य एक कारगर हथियार है। मौजूदा राजनीतिक माहौल और राज्य की निराशाजनक हालत के मद्देनजर व्यंग्य अपनी बात पहुंचाने का सबसे बेहतर तरीका है।’


यह थीम हाल के महीनों में मुख्यमंत्री विजय रूपानी समेत बीजेपी के नेताओं के बयानों से प्रेरित है। मुख्यमंत्री ने एक सार्वजनिक कार्यक्रम में कहा था, ‘विकास भले ही पागल हो गया होगा, लेकिन भ्रष्टाचार, गरीबी और बेरोजगारी के साथ ऐसा नहीं है।’ गुजरात बीजेपी की युवा इकाई के अध्यक्ष रुतविज पटेल ने भी सर्जिकल स्ट्राइक और डोकलाम मामले में भारत के रुख के हवाले से कहा था कि अगर विकास पागल नहीं होता, तो ये चीजें नहीं होतीं। बीजेपी के एक पूर्व रणनीतिकार ने नाम जाहिर नहीं किए जाने की शर्त पर बताया, ‘विकास पार्टी का सबसे बड़ा और शायद लंबे समय से एकमात्र आधिकारिक मुद्दा रहा है और इस तरह का कटाक्ष जो लोगों को हंसा रहा है, वाकई में हमारे लिए बुरी खबर है। कांग्रेस इस मामले में हम पर भारी पड़ गई है।’

बीजेपी जहां इस कैंपेन के अपने आप खत्म होने का इंतजार कर रही है, वहीं कांग्रेस इसे जारी रखने पर आमादा नजर आ रही है। गुप्ता ने बताया, ‘हमें इसे अगले 3 महीने तक जिंदा रखने और लोगों को यह याद दिलाने की जरूरत है कि पिछले 22 सालों में विकास के नाम पर उन्हें क्या मिला। बाकी वोटर खुद समझदार हैं।’ बीजेपी के सीनियर नेता और गुजरात में सोशल मीडिया का अहम चेहरा पराग सेठ ने कहा कि कांग्रेस जहां बीजेपी के विकास के अजेंडे पर सवाल खड़े कर रही है और उसके नेता राहुल गांधी गुजरात की उपलब्धियों पर सवाल उठा रहे हैं, लेकिन वे भूल जाते हैं कि साबरमती नदी का किनारा कांग्रेस के शासन में खाली पड़ा था, जिसे उसी बीजेपी सरकार ने ग्लोबल टूरिस्ट सेंटर बना दिया, जिसका वे मजाक उड़ा रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*